ईद के दिन बिना किसी मांग पर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिदर सिंह ने मालेरकोटला को जिला बनाने की घोषणा कर दी जो सरासर गलत है :- सुनील कुमार बंटी

ईद के दिन बिना किसी मांग पर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिदर सिंह ने मालेरकोटला को जिला बनाने की घोषणा कर दी जो सरासर गलत है :- सुनील कुमार बंटी

(अनिल वर्मा) जालंधर:- 18 मई 2021 आज शिवसेना समाजवादी के युवा पंजाब प्रधान सुनील कुमार बंटी अपने कार्यालय से प्रेस नोट जारी करते हुए सुनील बंटी ने कहा कि ईद के दिन बिना किसी मांग पर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिदर सिंह ने मालेरकोटला को जिला बनाने की घोषणा कर दी। इसके साथ ही मेडिकल कालेज के नाम पर 500 करोड़ रुपये देने और उस कालेज का नाम मालेरकोटला के पूर्व नबाव शेर मोहम्मद खान रखने की घोषणा कर दी। यह सरकार की ओर से उठाया गया गलत कदम है। फैसला लेने से पहले कुछ भी सोचा नहीं गया। पंजाब सरकार के इस फैसले की शिवसेना समाजवादी ने कड़ा विरोध करते हुए कहा कि धर्म के आधार पर जिले की स्थापना करके कांग्रेस ने अपना कश्मीर का इतिहास दोहराने का कार्य किया है। इससे मालेरकोटला में हर संवैधानिक पद पर मुस्लिम को बैठाने की कोशिश सरकार की तरफ से की जाएगी और वहां कश्मीर की तरह ही मुस्लिम आबादी बढ़ने से हिदुओं और बाकी धर्मों के लोगों को पलायन करने के परिणाम भुगतने की आशंकाओं को नकारा नहीं जा सकता। बंटी ने कहा की पहले हरियाणा के मेवात, यूपी के किराना और कश्मीर, उत्तर प्रदेश, बंगाल, केरल में मुस्लिम आबादी बढ़ने से हिदुओं का पलायन हुआ उससे सबक न लेकर पंजाब सरकार ने भी ममता बनर्जी की तरह मुस्लिम वोट बैंक हासिल करने के लिए ही उक्त फैसला लिया है। इसका शिवसेना समाजवादी विरोध करती है। शिवसेना समाजवादी की मांग है कि जल्द मालेरकोटला को जिला बनाने का फैसला वापस ले,उन्होंने कहा की कांग्रेस सरकार हमेशा से हिन्दुओ के साथ सौतेला व्यवहार करती रही है पंजाब में पहले ही हिन्दुओ पर हमले हो रहे है और जो बचते है उनपर झूठे मुकदमे दर्ज हो रहे है इसलिए सरकार का एक धर्म के नाम जिला बनाने का फैसला बहुत गलत है जिसे सरकार जल्द से जल्द वापिस ले नहीं तो वो दिन दूर नहीं जब पंजाब में भी मिनी पाकिस्तान बन जाएगा और पंजाब का माहोल खराब होगा