केजरीवाल द्वारा किसी धर्म विशेष का मुख्यमंत्री बनाने का एलान करना बेहद निंदनीय : निशांत शर्मा बंटी जोगी

केजरीवाल द्वारा किसी धर्म विशेष का मुख्यमंत्री बनाने का एलान करना बेहद निंदनीय : निशांत शर्मा बंटी जोग

 

(DIN Beuro) मुकेरियां:- 19 जुलाई 2021 शिव सेना हिन्द की एक विशेष राष्ट्रीय ऊप अध्यक्ष बंटी जोगी की ओर से रेस्ट हाउस मुकेरिया में आयोजित की गई जिसमें। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष निशांत शर्मा व पंजाब प्रदान अरविंद गौतम विशेष रूप से उपस्थित हुए। इस मौके निशांत शर्मा ने कहा कि 2022 विधानसभा चुनाव में शिव सेना हिन्द अहम भूमिका निभाएगी। उन्होंने कहा कि शिव सेना हिन्द पंजाब की एकता अखंडता व भलाई की बात करने वाली पार्टी का औऱ बढीया उम्मीदवारों का समर्थन करेगी। इस मौके निशांत शर्मा व बंटी जोगी ने अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि केजरीवाल द्वारा आप की सरकार बनने पर पंजाब में किसी एक जाति विशेष का मुख्यमंत्री बनाने का एलान करना बेहद शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि ऐसा बयान सभी धर्मों के आपसी भाईचारे को भिड़ाने वाला बयान है। उन्होंने कहा कि पंजाब के लोगों ने ऐसा कभी नही सोचा कि हमारा मुख्यमंत्री हिन्दू सिख या दलित हो। लेकिन केजरीवाल गन्दी राजनीति के चलते पंजाब के लोगों के आपसी प्रेम औऱ सोहार्द को बिगाड़ने का काम कर रहा है। जो कि हम हरगिज बर्दाश्त नही करेंगे। उन्होंने कहा कि ऐसे बेतुके व भाईचारे को तोड़ने वाले बयान देने वाले केजरीवाल को कोर्ट का नोटिस भेजेंगे। निशांत शर्मा जी ने कहा कुछ महीने पहले हमारे मुकेरिया के प्रधान बंटी जोगी के धर निहंग जथेबंदियों की ओर से धेराव किया गया था लेकिन अभी भी ऊसकी सुनवाई नहीं हुई मुख्यमंत्री पंजाब ऊसकी ओर ध्यान दे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री तो मुख्यमंत्री ही होता है वह चाहे सिख हो हिन्दू हो या किसी अन्य धर्म से हो पर सुनवाई होनी चाहिए। मुख्यमंत्री को किसी धर्म जाति विशेष से नही जोड़ना चाहिए, मुख्यमंत्री राज्य के सभी धर्मों के लोगों का सांझा होता है। ऐसे बयान से लोगों की ऐसी धारणाएं बनेगी कि पंजाब में सिख मुख्यमंत्री क्यों, हिन्दू या अन्य धर्म का क्यों नही। लेकिन केजरीवाल इतना शातिर है कि वह ऐसे बयान से पंजाब के सभी धर्मों के लोगों के ह्रदय में नफरत का बीज बोना चाहता है। उन्होंने कहा कि इसी तरह के नफरत के जहर घोलने से केजरीवाल सरकार के कार्यकाल में दिल्ली में हिंदुओं और मुसलमानों के दंगे हुए थे। और दंगे भड़काने के आरोपों में आप पार्टी के MLA अमानतुल्लाह खां का नाम बेहद सुर्खियों में रहा था। उन्होंने कहा कि विभिन्न धर्मों के लोगों को आपस में लड़ाओ और राज करो ये केजरीवाल की राजनीति है। उन्होंने कहा कि 2017 के चुनाव से पहले भी केजरीवाल समेत कई आप नेताओं ने खालिस्तान आतंकियों के साथ बैठकें की थी जिस से यह साफ होता है कि केजरीवाल सरकार बनाकर पंजाब में खालिस्तान मुहिम को समर्थन करेगा। और पंजाब में हिन्दू सिख भाईचारे में नफरत का जहर घोलने की साजिश करेगा।